जमाबंदी (Jamabandi) ऑनलाइन – भूमि के विवरण की जांच करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर देश के सरपंच के साथ वीडियो कांफ्रेंस कर के इसके बाद यह बात कही। उन्हें कोरोना जैसी महामारी से अपने गांव की रक्षा करने का जिम्मा कहां सौंपा गया? इस मौके पर उन्होंने ई-ग्राम स्वराज और स्वामी योजना का शुभारंभ किया। इस आरेख का इस्तेमाल करते हुए ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल कर गांवों की मैपिंग कराई जाएगी।

जिसके द्वारा प्रत्येक ग्रामीण को उसकी संपत्ति मिल जाएगी। इस योजना की बदौलत ग्रामीणों के बीच लड़ाई और भ्रम खत्म हो जाएगा। प्रॉपर्टी प्लान का मकसद क्या है, आपके लिए क्या होगा फायदा, ड्रोन से कैसे होगी मैपिंग इस आर्टिकल में आप यह सब देख सकते हैं। ऐसा करने के लिए, आपको पूरे लेख को पढ़ने और जमाबंदी योजना को जानने की आवश्यकता है।

संपत्ति की (जमाबंदी) योजना क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के हर गांव की जमीन/भू-अभिलेखों का नक्शा तैयार करेंगे। इससे गांव के निवासियों के बीच लड़ाई खत्म हो जाएगी। और उन्हें संपत्ति का अधिकार मिलेगा।

संपत्ति योजना/जमाबंदी के लाभ

  • गांव की संपत्ति को डॉन कैमरे से मैप किया जाएगा।
  • गांव की संपत्ति को मैप कर आधार नक्शे से जोड़ा जाएगा।
  • जिन व्यक्तियों के पास भूमि दस्तावेज नहीं हैं, उन्हें इस कार्यक्रम के तहत प्रमाण पत्र प्राप्त होंगे।
  • ड्रोन कैमरों की मैपिंग से व्यवधान का खतरा कम होगा ।
  • ड्रोन के कैमरे की मैपिंग के बाद कोई भी व्यक्ति अपने मालिकाना हक के बारे में ऑनलाइन जानकारी हासिल कर सकता है।
  • ड्रोन मैपिंग की मदद से आपको प्रॉपर्टी में नकली नोटों से छुटकारा मिल जाएगा

Jamabandi /संपत्ति योजना का विषय

  • पंचायती राज दिवस के दिन प्रॉपर्टी प्लान की शुरुआत हुई।
  • इस कार्यक्रम के माध्यम से, ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को घर के मालिक बनना चाहिए।
  • Jamabandi के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भूमि की मैपिंग, जो इन भूमिओं के स्वामित्व/स्वामित्व का डिजिटल रिकॉर्ड बनाएगी।
  • देश में कई राज्य ऐसे हैं जिनके गांव में जमीन की रजिस्ट्री नहीं है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में जमीन के लिए लड़ाई-झगड़े होते रहते हैं। इस आरेख की बदौलत इलाके की मैपिंग ड्रोन कैमरे से की जाएगी जो खुद को संघर्ष से मुक्त कर ेगी।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में आवासीय संपत्तियों के पंजीकरण के लिए टैक्स लगाया जाएगा। लेवी का उपयोग उपलब्ध बुनियादी ढांचे और ग्रामीण सुविधाओं के विकास के लिए किया जा सकता है।

संपत्ति योजना / Jamabandi ऐप डाउनलोड कैसे करें

  • सबसे पहले अपने मोबाइल के Google Play Store पर जाएं।
  • इस दस्तावेज में आप “e-Gram Swaraj” की खोज करते हैं ।
  • तलाशी के बाद आवेदनों की सूची आपके सामने खुलती है, जिसमें आपको केवल पंचायती राज मंत्रालय द्वारा बनाए गए आवेदनों को ही इंस्टॉल करना होता है।
  • अपना एप इंस्टॉल करने के बाद अपना राज्य, जिला, तहसील/ब्लॉक और फिर अपनी ग्राम पंचायत चुन सकते हैं। उसके बाद ग्राम पंचायतों की आपकी सूची आपके सामने खुलेगी।

Related Post – Pradhan Mantri Ujjwala Yojana

Leave a Reply